Government Job में Selection के बाद के procedures क्या होते हैं

Government Job में selection के बाद के procedures जानने की उत्सुकता Government Job की तैयारी करने वाले किसी भी छात्र के मन में रहती है । खासकर उन छात्रों के लिए यह जानना बहुत जरूरी है जिनका पहली बार government job के लिए selection हुआ है।

Government Job में selection के बाद government job joining procedure क्या होते हैं और कैसे Government Office join करना पड़ता है इसकी जानकारी हम यहाँ एक-एक करके इस इस लेख में देंगे।

Government Job में Selection के बाद के procedures:

Government Job Joining Letter

जो छात्र नहीं जानते हैं कि Joining letter kya hota hai उन्हें बता दें कि फाइनल रिजल्ट आने के कुछ दिनों बाद govt job joining letter मिलता है जिसमें उस ऑफिस का नाम होता है जहाँ join करना होता है।

Job Joining Letter में एक date होती है जिसके अंदर ही आपको join करना होता है।

किसी विशेष परिस्थिति में आप इस date को बढ़ा सकते हैं। जैसे कि आपकी तबीयत खराब हो गई या आप किसी अन्य office में कार्यरत हैं और वह office आपको relieve नहीं कर रहा है।

लेकिन आप कोशिश करें कि government joining letter मिलने के बाद जितना जल्द हो सके तो office join कर लें। यह आपके नौकरी के दौरान लाभदायक होता है।

एक-एक दिन की देरी भी भविष्य में आपके लिए नुकसान कर सकता है।

Office में joining:

Government Job में Selection के बाद के procedures
Government Job में Selection के बाद के procedures

Joining letter में बताए गए ऑफिस में जाकर Joining करनी पड़ती है। Joining के समय आपको अपने सभी जरूरी documents ले जाने पड़ते हैं।

जैसे Schooling Certificate से लेकर Caste Certificate तक (यदि आप आरक्षित वर्ग में आते हैं तो )।

कई office में joining के कुछ दिनों बाद work allocation हो जाता है और आपको कोई section allot कर दिया जाता है।

यह office के ऊपर depend करता है। आप जिस office में join करते हैं और यदि उसका एक ही office है तो कोई बात नहीं आपको वहीं पर posting दे दी जाएगी।

लेकिन यदि उस office के अन्य branch या division हैं तो आपकी posting उनमें भी हो सकती है।

ये branch या division दूसरे शहर में भी हो सकते हैं। इसलिए उनके बारे में भी joining के समय ही पता कर लें।

Document verification:

जैसे कि ऊपर बताया गया है कि joining के समय आपको अपने जरूरी documents ले जाने पड़ते हैं। joining के समय आपके सभी documents का verification होता है।

इसमें यह जांच की जाती है कि join करने वाले व्यक्ति आप ही हैं। इस बात का ध्यान रखें कि joining के समय signature वैसे ही करें जैसा कि आपने परीक्षा form भरते समय किया था।

क्योंकि office के पास आपके परीक्षा form के साथ-साथ वो सभी documents मौजूद होते हैं जिन्हें परीक्षा form भरते वक्त आपने लगाए थे।

joining के समय आपको अपनी family details एक form में भरनी पड़ती है। इसलिए joining के लिए जाने से पहले अपनी family members की कुछ जरूरी details एक पेपर पर नोट कर लेना चाहिए।

इस बात के ध्यान रखें कि joining के समय कभी भी गलत details ना दें नहीं तो यह भविष्य में आपके लिए समस्या हो जाती है। जब आपका कोई dependents हो तो यह और भी महत्वपूर्ण हो जाता है।

Service Book:

आपका service book open करना उस office के किसी specific section का काम होता है। यह काम सामान्यतया Accounts section के पास ही होता है।

इस service book के दो part होते हैं। पहले part में आपकी personal file होती है जिसमें आपके द्वारा परीक्षा के समय भरे गए form और उनके साथ attached documents होते हैं।

इसी part में joining के समय आपके द्वारा भर कर दिए गए documents रखे जाते हैं। दूसरे part में पहले part में रखे जाने वाले documents के बारे में लिखा जाता है। जैसे कि joining details, home town declaration, leave details आदि।

Work allocation:

Joining के बाद आपके लिए work allocate किया जाता है यानि आपको office के किस section में काम करना है।

work allocate करते समय या तो कोई section दिया जाता है जिसकी पूरी जिम्मेदारी आपके ऊपर होती है या किसी section का एक specific work allocate किया जाता है।

यह work allocation उस office का head करता है यानि headof office। work allocate करने के बाद आप काम करने के लिए तैयार हैं।

Bank Account खुलवाना:

Joining के बाद आपसे आपका Bankdetails लिया जाता है जिसमें आपकी salary जानी है।

आपके पास यदि पहले से ही कोई bank account है तो उसे salary account के तौर पर use कर सकते हैं वरना आपको एक bank account खुलवाना पड़ेगा।

आजकल bank account खुलवाना बहुत ही आसान हो चुका है इसलिए इसमें आपको कोई दिक्कत नहीं आने वाली है।

अक्सर government office के आस पास कोई-ना-कोई बैंक मिल ही जाएगा जिसमें आसानी से account खुल सकता है।

PRAN के लिए apply करना:

PRAN का full form Permanent Retirement Account Numberहोता है।

जैसा कि यह विदित है, जनवरी 2004 में केंद्र सरकार द्वारा Old Pension Scheme के जगह पर New Pension Scheme (NPS) लाया गया।

इसी NPS के तहत आपको एक Account Number दिया जाता है जिसे Permanent Retirement Account Number यानि PRAN कहते हैं।

joining के समय आपको इसके लिए apply करना होता है। Application Form online उपलब्ध है जिसे आसानी से download करके print लिया जा सकता है।

NPS के बारे में किसी और लेख में detail से जानकारी दी जाएगी।

ऊपर बताए गए सभी procedures अधिकतर government offices में follow किए जाते हैं। लेकिन कुछ ऐसे भी procedures होंगे जो office-office के हिसाब से follow किए जाते होंगे।

यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपका ऑफिस किस department के अंतर्गत आता है। और यह भी की आपका office central government के अंतर्गत है या state government के ।

निष्कर्ष:

Government office में joining के समय follow किए जाने वाले procedures बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं।

इस procedure में आपके द्वारा की गई एक भी गलती भविष्य में आपको नुकसान पहुंचा सकती है।

इसलीये joining के समय उपरोक्त procedures को सही तरीके से follow करें। इस बात का जरूर ध्यान रखें कि कोई भी गलत सूचना ना दें या कोई सूचना office से छुपायें।

जितनी सही जानकारी है उतनी उसी समय उपलब्ध कराएं और जिनके बारे में आपको संदेह है उसकी सही जानकारी लेकर बाद में उपलब्ध कराएं।

यदि लेख अच्छा लगा हो तो जरूर शेयर करें।

Leave a Comment

SSC CGL 2022 प्रारम्भिक परीक्षा की तैयारी कैसे करें SSC CGL Executive Assistant Salary, Job Profile और Promotion SSC CGL 2022 की तैयारी कैसे करें New Pension Scheme से बाहर निकलने की शर्तें