SSC CGL: GST Inspector Salary, Job Profile, Promotion के बारे में विस्तृत जानकारी

GST Inspector पद के लिए चयनित उम्मीदवार यह जानना चाहते हैं कि GST Inspector Salary क्या होती है, Job Profile क्या है और Promotion के अवसर क्या हैं। इन्ही प्रश्नों के उत्तर इस लेख में दिए गए हैं।

SSC CGL के माध्यम से इन्स्पेक्टर पद की परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों की पोस्टिंग CBIC, CBDT, Central Bureau of Narcotics जैसे विभागों में की जाती है। आगे CBIC केअधीन इनकी पोस्टिंग Central Excise Inspector, Preventive Officer और Examiner के तौर पर की जाती है।

Central Excise को ही अब GST के नाम से जानते हैं और इसमें GST inspector की posting की जाती है।

तो आईए जानते हैं कि GST Inspector Salary कितनी होती है, जॉब प्रोफाइल क्या है और प्रमोशन के क्या अवसर है?

पहले हम इस पद के विषय में कुछ बेसिक जानकारी देंगे उसके बाद GST Inspector Salary, जॉब प्रोफाइल और प्रमोशन के बारे में बताएंगे।

GST inspector का पद क्या होता है?

CBIC(Central Board of Indirect Taxes and Customs) के अंतर्गत GST inspector का पद ग्रुप ‘B’ में आता है। यह Non-Gazetted यानी अराजपत्रित होता है और Executive पद के अंतर्गत आता है।

CBIC में GST inspector कैसे बनें:

CBIC में GST inspector बनने के लिए अभ्यर्थी को SSC द्वारा आयोजित CGL की परीक्षा को उत्तीर्ण करना पड़ता है।

SSC CGL परीक्षा की तैयारी करने के लिए इसके पैटर्न और सिलेबस के बारे में जानना बहुत जरूरी है। इसके लिए आप निम्नलिखित लेखों को पढ़ सकते हैं-

इसके लिए आप निम्नलिखित लेखों को पढ़ सकते हैं-
SSC CGL Exam Pattern, 2021 in Hindi
SSC CGL Exam Syllabus, 2021

जैसा कि पहले लेख में बताया गया है कि एक GST inspector की परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए चार चरणों (Tier) की परीक्षा देनी पड़ती है।

Tier-I से लेकर Tier-III तक की परीक्षाओं में बहुविकल्पीय प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं। जो उम्मीदवार Inspector पद के लिए परीक्षा देता है उसे Tier-II में केवल पेपर-I और पेपर-II की ही परीक्षा देनी होती है।

Tier-IV में CBIC में Inspector पद सहित कुछ पदों के लिए CPT (Computer Proficiency Test) की परीक्षा होती है।

इस परीक्षा के अंतर्गत कंप्युटर पर MS office से संबंधित कुछ टेस्ट देने होते हैं, जैसे- MS word में Typing करना, MS Excel में एक spreadsheet तैयार करना, MS Powerpoint में एक Presentation तैयार करना आदि।

Computer Proficiency Test उत्तीर्ण करने के बाद Tier-I, II और III के अंकों को जोड़कर मेरिट लिस्ट तैयारी की जाती है।

यदि CBIC में Inspector पद के लिए निर्धारित Cut-off को आप प्राप्त कर लेते हैं तो आपका selection इस पद के लिए हो जाता है।

जैसा कि हमनें पहले ही बताया है कि CBIC में इन्स्पेक्टर पद पर चुनाव होने के बाद किसी उम्मीदवार की नियुक्ति GST में Inspector, Preventive Officer और Examiner के तौर पर की जाती है।

GST Inspector Salary:

छठवें CPC के अनुसार यह पद Rs.9300-34800 के Pay Band और 4600/- Grade Pay के अंतर्गत आता था।

GST Inspector Salary की गणना करने के लिए सबसे पहले सातवें वेतन आयोग के Pay Matrix के आधार पर उसकी Entry Basic Pay को जानना होगा।

सातवें वेतन आयोग के Pay Matrix के अनुसार इस पद के लिए Basic Pay Rs. 44900 से 142400 तक है। अर्थात इसका Entry Basic Pay, Level 7 और Cell 1 में आता है। इस तरह एक GST Inspector का Entry Basic Pay होगा – Rs.44900/-।

इसी Basic Pay यानी 44900/- के आधार पर हम एक नए नियुक्त GST Inspector की salary की गणना करेंगे।

तो सबसे पहले हम उस Inspector की Place of Posting देखते हैं। क्योंकि किसी सरकारी कर्मचारी को salary के अंतर्गत मिलने वाले Allowances में शहर के अनुसार भिन्नता होती है।

यहाँ हम यह मान कर चल रहे हैं कि GST Inspector की पोस्टिंग किसी X क्लास शहर में हुई है। तो अब उक्त GST Inspector की Salary की गणना करते हैं।

GST Inspector Salary की गणना-

Basic Pay = 44900/-
DA(Dearness Allowance)= 44900/- का 17% = 7633/-( चूंकि वर्तमान में DA 17% है)

Transport Allowance (TPTA) = X क्लास शहर के लिए Pay Level 3 से 8 तक के कर्मचारी को मिलने वालाTransport Allowance = 3600+ 3600 x वर्तमान DA = 3600+3600 x 17% = 4212/-

HRA (Home Rent Allowance) = 44900/- का 24% = 10776/-

Gross Salary = Basic Pay + DA + TPTA + HRA = 44900 + 7633 + 4212 + 10776 = 67521/-

इस गणना की सुविधा के लिए नीचे दिए गए टेबल में दिखाया है।

GST Inspector salary
GST Inspector salary

जैसा कि हमनें एक लेख में बताया है कि Gross Salary किसी कर्मचारी के खाते में नहीं जाती है। इस Salary में से कुछ Government और Non-Government Deductions होने के बाद जो Net Salary होती है वही उस कर्मचारी को मिलती है।

Government Deductions में Pension Deduction, CGHS, CGEGIS आदि जैसे deductions होते हैं और Non- Government में Professional Tax जैसे deductions होते हैं।

एक और बात यह कि यदि वह GST Inspector किसी Government Quarters में रहता है तो उसे HRA नहीं मिलेगा। अब उपरोक्त गणना के अनुसार उसकी Gross Salary हो जाएगी- 56745/-।

इसके अतिरिक्त NPS, CGHS, CGEGIS आदि Deductions के बाद एक GST Inspector की in-hand salary लगभग 50000/- मिलती है।

GST Inspector का Promotion:

पहले की तुलना में CBIC में एक GST Inspector के प्रमोशन के अवसर बहुत अच्छे हो गए हैं।

बोर्ड की तरफ से हाल ही में जारी नए प्रमोशन नियम के आधार पर अब एक GST Inspector अपने Service Period में ना केवल बहुत जल्दी एक ग्रुप A अधिकारी बन सकता है बल्कि retirement के समय तक एक अच्छे रैंक तक जा सकता है।

पहला प्रमोशन:
CBIC में एक GST Inspector का पहला प्रमोशन Superintendent के पद पर होता है। यह प्रमोशन पहले जहाँ 10 से 12 साल में होता था वह अब घटकर 2 से 3 साल हो चुका है।

GST Inspector का पद जहाँ ग्रुप B ‘Non-Gazetted’ होता है वहीं Superintendent का पद ग्रुप B ‘Gazetted’ हो जाता है। साथ ही Grade Pay Rs.4600 से बढ़कर Rs.4800 हो जाता है लेकिन Pay Band Inspector के समान ही रहता है।

इससे Salary में बहुत अधिक वृद्धि तो नहीं होती है और ना ही दोनों पदों पर मिलने वाले Allowances में कोई खास अंतर होता है, लेकिन एक Gazetted officer का पद मिल जाता है।

एक GST Inspector को Superintendent के पद पर प्रमोशन पाने के लिए किसी तरह के विभागीय परीक्षा (Departmental Exam) को पास करने की जरूरत नहीं होती है। जैसे ही GST Inspector जो Department में नियुक्त हुए 2 से 3 साल होते हैं और Superintendent के पद की vacancy है तो उसका प्रमोशन हो जाता है।

लेकिन Department में नियुक्ति के बाद Confirmation के लिए एक Departmental Exam पास करना होता है और एक mandatory training पूरी करनी होती है।

आगे के पदों पर प्रमोशन:
GST में Superintendent का प्रमोशन Assistant Commissioner के पद पर होता है।

चूंकि यह पद ग्रुप A में आता है इसलिए इस पद पर प्रोमोट हुए अधिकारियों के नामों की सूची CBIC के आधिकारिक वेबसाईट पर जारी की जाती है।

Assistant Commissioner का Pay Band बढ़कर 15600-39100 हो जाता है और Grade Pay बढ़कर 5400 हो जाता है।

चूंकि एक Assistant Commissioner का Pay Level बढ़कर 10 हो जाता है इसलिए इनको मिलने वाले Allowances में अच्छी-खासी वृद्धि हो जाती है। लेकिन Salary में बहुत अधिक अंतर नहीं दिखाई देता है क्योंकि Superintendent के पद पर काम करते हुए सामान्यतया एक MACP मिलने के बाद Grade Pay पहले ही बढ़कर 5400 हो चुका रहता है।

Assistant Commissioner के आगे के प्रमोशन में Deputy Commissioner, Joint Commissioner, Additional Commissioner जैसे पद आते हैं।

जो Inspector पहले Assistant Commissioner और अधिक से अधिक Deputy Commissioner के पद तक प्रोमोट होकर पहुँच पाता था, वर्तमान में उसके Additional Commissioner और Commissioner के पद तक पहुँचने के chances बढ़ गए हैं।

GST Inspector Job Profile:

चूंकि GST Inspector एक Executive officer होता है, इसलिए इसका Job Profile एक Tax Assistant के Job Profile से पूरी तरह से बदल जाता है।

यहाँ हम एक GST Inspector के द्वारा किए जाने वाले कुछ महत्वपूर्ण कार्यों के बारे में संक्षिप्त जानकारी दे रहे हैं।

Desk Job:
जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है कि इसके अंतर्गत एक GST Inspector अपने Office में ही रहकर काम करता है। यानी उसे कोई field work नहीं करना पड़ता है।

GST Office में की प्रकार के Sections होते हैं, उन्हीं में से किसी में GST Inspector की posting होती है और उसे उस Section से संबंधित reports तैयार करने पड़ते हैं।

मुख्य रूप से जो Sections हैं वो हैं- Vigilance Section, Review Section, Legal Section, Adjudication Section आदि।

Protocol Duty:
इस काम के लिए कोई अलग से posting नहीं होती है। एक GST Inspector को Regular Posting के साथ ही यह काम भी दिया जा सकता है। यदि उसकी posting किसी ऑफिस में है और उसे किसी तरह की protocol duty दी जाती है तो उसे अपना regular work को छोड़कर protocol duty के लिए जाना पड़ेगा।

GST Inspector के पद पर काम करते हुए उसे कुछ ऐसे काम भी करने पड़ते हैं जो Protocol Duty के अंतर्गत आते हैं। यह duty कुछ घंटे से लेकर कुछ दिनों के लिए हो सकती है।

इस Protocol Duty के अंतर्गत एक GST Inspector का काम होता है किसी उच्च अधिकारी के संबंधित Commissionerate में आने पर उसे receive करना, मुख्यालय में CRO duty करना, कुछ महत्वपूर्ण दिवस जैसे 15 अगस्त और 26 जनवरी को duty करना आदि।

एक GST Inspector को Protocol Duty अपने Uniform में रहकर ही करने पड़ते हैं।

एक Auditor की तरह Duty:
GST Commissionerate का एक Audit Office भी होता है. यह CAG के अंतर्गत आने वाले Audit office से अलग होता है।

इसमें एक GST Inspector की posting Auditor की तरह ना होकर एक Inspector की तरह ही होती है।

इनका काम होता है सम्बंधित Commissionerate के Juristiction के अंतर्गत आने वाले कंपनियों / units का audit करना और उससे जुड़े रिपोर्ट तैयार करना।

इसके लिए GST Inspectors को अपने वरिष्ठ अधिकारी, जो कि सामान्यतया Superintendent ही होता है, के साथ किसी कंपनी या units का दौरा करना पड़ता है और उस कंपनी या units से सम्बंधित Audit Report तैयार करनी पड़ती है।

उस कंपनी या units तक आने-जाने के लिए या तो ऑफिस से यातायात साधन उपलब्ध कराया जाता है या किसी अन्य साधन से आने-जाने पर हुए खर्च को ऑफिस की तरफ से Travelling Allowance के रूप में Reimburse कर दिया जाता है।

GST Inspector का Transfer और Posting:

GST Commissionerate के मुख्यालय के अलावा सम्बंधित Commissionerate के अंतर्गत डिवीज़न और रेंज भी आते हैं।

ये डिवीज़न और रेंज मुख्यालय शहर के भीतर भी हो सकते हैं और अन्य शहरों में भी हो सकते हैं। इन डिवीज़न और रेंज में GST Inspectors की posting होती है।

इस तरह हम यह कह सकते हैं कि एक GST Inspector की posting तीन जगहों पर होती है- मुख्यालय, डिवीज़न और रेंज।

जहाँ तक GST Inspector के ट्रान्सफर की बात है तो प्रत्येक साल Annual General Transfer (AGT) के तहत इनका transfer एक ऑफिस से दुसरे ऑफिस में किया जाता है।

लेकिन एक GST Inspector को एक ऑफिस में सामान्यतया 2 साल के लिए posting दी जाती है। विशेष परिस्थितियों में ही GST Inspector का transfer इस अवधि से पहले किसी और ऑफिस में किया जाता है।

चूँकि CBIC के अंतर्गत Customs विभाग भी आता है, इसलिए GST Inspector की posting इस विभाग में भी होती है। Customs में अक्सर उन्हीं GST Inspectors की posting होती है जिन्होंने कुछ साल (सामान्यतया 7 से 8 साल) GST में काम कर लिया है।

इस तरह यह कहा जा सकता है कि एक GST Inspector का transfer विभिन्न ऑफिस में होता रहता है। इसलिए किसी भी उम्मीदवार को GST Inspector की पोस्ट के लिए apply करने से पहले इस बात को ध्यान में रखना चाहिए।

निष्कर्ष:

GST Inspector की नौकरी एक प्रतिष्ठित और अच्छी तनख्वाह वाली नौकरी है। लेकिन इस नौकरी को प्राप्त करना आजकल आसान नहीं रह गया है। इसके लिए SSC CGL Exam के तहत चार चरणों की परीक्षा देनी पड़ती है।

इसीलिए किसी भी उम्मीदवार को यह जरूर जानना चाहिए कि एक GST Inspector Salary कितनी है, उसे ऑफिस में किस तरह के काम करने पड़ते हैं या उनके प्रमोशन के क्या अवसर हैं।

इस लेख के माध्यम से हमनें GST Inspector Salary, Job Profile और promotion के बारे में विस्तार से चर्चा की है।

यदि आप SSC CGL की तैयारी कर रहे हैं तो इस लेख को पूरा पढ़ें और लाभ उठायें।

आपको यह लेख कैसा लगा, कमेन्ट बॉक्स में जरूर बताएं और इस लेख को शेयर भी करें जिससे आपके अन्य दोस्तों को भी इसका लाभ मिले।

Leave a Comment