Current Affairs की तैयारी Newspaper के माध्यम से कैसे करें?

Current Affairs से संबंधित प्रश्न किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

जब बात राज्य लोक सेवा आयोग या UPSC की परीक्षाओं की हो तो यह भाग और भी महत्वपूर्ण हो जाता है।

क्योंकि इन परीक्षाओं में GS के पेपर में Current Affairs से संबंधित कई प्रश्न पूछे जाते हैं।

एकदिवसीय परीक्षाओं में भी Current Affairs से संबंधित प्रश्नों की मात्रा भी बढ़ने लगी है।

इसलिए Current Affairs की तैयारी के लिए एक Strategy होना बहुत जरूरी है।

वैसे तो Current Affairs की तैयारी से संबंधित कई सारे publications की पुस्तकें आती हैं। लेकिन Newspaper की भूमिका को भी कम नहीं आँका जाना चाहिए।

यदि आप Newspaper से प्रतिदिन अपने Current Affairs की तैयारी करते हैं तो परीक्षा के समय इन पुस्तकों का थोड़ा सा भी अध्ययन आपके लिए लाभदायक होगा।

लेकिन यह जानना बहुत जरूरी है कि Newspaper से Current Affairs की तैयारी कैसे करें।

तो आईए इस लेख के माध्यम से जानते हैं कि Newspaper से Current Affairs की तैयारी कैसे की जा सकती है।

Newspaper से Current Affairs की तैयारी करने का सही तरीका

Newspaper के माध्यम से Current Affairs की तैयारी करने के लिए सभी छात्रों के अपने अलग-अलग तरीके होते हैं।

यहाँ हम जो तरीका बताने जा रहे हैं वो अनुभव के आधार पर ही है जिन्हें कोई भी अपनाकर आसानी से Current Affairs की तैयारी कर सकता है।

Newspaper का नियमित अध्ययन:-

Current Affairs की तैयारी Newspaper के माध्यम से कैसे करें

Newspaper से Current Affairs की तैयारी करने के लिए आपको नियमित अध्ययन की जरूरत होती है।

यदि आप नियमित अध्ययन नहीं करते हैं तो किसी दिन का महत्वपूर्ण टॉपिक छूट सकता है और उसकी तैयारी के लिए फिर से आपको किताब की सहायता लेनी पड़ सकती है।

नियमित अध्ययन का एक और लाभ यह है कि किसी घटना की एक-एक कड़ी की जानकारी आपके पास रहती है।

यदि उस घटना के बारे में किसी परीक्षा में विस्तृत लेख लिखना हो तो आपको ज्यादा परेशानी नहीं होगी और आप आसानी से सभी कड़ियों को जोड़कर एक लंबा लेख लिख सकते हैं।

परीक्षाओं में पूछे जाने वाले Current Affairs के प्रश्नों में एक सबसे महत्वपूर्ण भाग होता है खेल और खिलाड़ी का।

इस भाग से अक्सर खेल की घटनाओं के साथ-साथ किसी खिलाड़ी के विषय में भी प्रश्न पूछे जाते हैं। जैसे अमुक खिलाड़ी किस खेल से संबंधित है या किस देश का है।

ध्यान रहे कि कठिन परीक्षाओं में कभी भी ऐसे खिलाड़ी के बारे में प्रश्न नहीं पूछा जाते हैं जो बहुत ही प्रचलित हो। उदाहरण के तौर पर क्रिकेट से संबंधित किसी खिलाड़ी के बारे में।

इसलिए Newspaper में प्रकाशित खेल-खिलाड़ी के समाचारों में क्रिकेट जैसे खेल के बारे में समाचार पढ़ने में अधिक समय ना दें।

अन्य खेलों का समाचार पढ़ते समय खिलाड़ी का नाम और उससे संबंधित खेल तथा देश को अच्छे से याद कर लें।

यदि आप Newspaper का नियमित अध्ययन करते हैं तो ये छोटी-छोटी चीजें आसानी से याद रहेंगी।

अच्छे Newspaper का अध्ययन करें:-

अब आप यह सोच रहे होंगे कि सभी Newspaper तो अच्छे ही होते हैं।

चलिए मान लेते हैं कि सभी Newspapers अच्छे होते हैं, लेकिन आप इस बात का ध्यान रखें कि आपके लिए कौन सा Newspaper अच्छा है।

यानि कि आपकी परीक्षा की तैयारी के लिए कौन सा Newspaper अधिक लाभदायक होगा। वही Newspaper आपके लिए अच्छा है।

आपने देखा होगा कि कई Newspapers में स्थानीय यानि कि Local समाचार ज्यादे छपते हैं तो कई में मनोरंजन और खेल से संबंधित समाचार अधिक होते हैं।

इस तरह के Newspapers से आपको बहुत अधिक लाभ नहीं होगा।

इसलिए ऐसे Newspaper का अध्ययन करें जिसमें आपकी परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों से संबंधित अधिक खबरें हों।

बहुत से ऐसे प्रकाशन हैं जिनके Newspaper में राष्ट्रीय और अन्तराष्ट्रीय घटनाओं से संबंधित समाचार अधिक छपते हैं।

ये प्रकाशन अपने Newspaper में अधिक से अधिक ऐसे समाचार छापते हैं जो प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वालों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं।

इसलिए आप ऐसे ही Newspaper का अध्ययन करें जिसमें स्थानीय और मनोरंजन से संबंधित खबरें ना हों या बहुत ही कम हों।

जिस Newspaper में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय खबरें अधिक छपती हैं वही Newspaper आपके लिए अधिक लाभदायक होगा।   

जरूरत के topics ही पढ़ें:-

Newspaper के अध्ययन का मतलब यह नहीं है कि आपको उसे पूरा पढ़ना है।

आपको अपने जरूरत के अनुसार ही उसमें से topics पढ़ने हैं। क्योंकि सभी topics परीक्षा के दृष्टि से महत्वपूर्ण नहीं होते हैं।

यहाँ हम एक उदाहरण से समझते हैं।

मान लीजिए कोई ऐसी घटना जो राजनीति से जुड़ी हो उसका विस्तृत अध्ययन आपके लिए बहुत अधिक लाभदायक नहीं होगा।

इसलिए इस घटना से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण topics का ही अध्ययन करें। यदि इस घटना में कोर्ट भी involve हो जाती है तो उससे संबंधित topics को भी जरूरत के अनुसार ही पढ़ें।

इसी तरह खेल-खिलाड़ी से संबंधित खबरों में भी पूरा topic पढ़ना समझदारी नहीं है।

इस भाग से संबंधित वही खबरें पढ़ें जो जरूरी हों। सभी topics पर ध्यान ना दें।

पढ़े हुए topics का notes बनाते रहें:

Newspaper के अध्ययन के समय महत्वपूर्ण बिंदुओं को अपने notebook में लिखना ना भूलें।

इन्हीं बिंदुओं को इकट्ठा करके आप Current Affairs की एक बेहतरीन नोट्स बना सकते हैं।

परीक्षा के समय इस नोट्स के revision मात्र से Current Affairs से संबंधित प्रश्नों की अच्छी-खासी तैयारी हो जाएगी।

नोट्स संक्षिप्त रखें:

Current Affairs के नोट्स को जितना ज्यादा संक्षिप्त रखेंगे उतना ही आपके लिए बेहतर रहेगा।

परीक्षा के समय नोट्स के संक्षिप्त होने के कारण कम समय में अधिक topics का revision कर सकते हैं।

अब नोट्स को संक्षिप्त कैसे बनाते हैं, हम यहाँ कुछ उदाहरणों से समझते हैं।

मान लीजिए प्रधानमंत्री किसी देश की यात्रा पर जाते हैं, तो उसका संक्षिप्त नोट्स नीचे की तरह होगा-

प्रधानमंत्री की यात्रा—>देश का नाम —> दिनांक —> किससे मिले

इसी तरह किसी खेल में किसी खिलाड़ी ने किसी अन्य खिलाड़ी को पराजित करके कोई कप या ट्रॉफी जीती है तो उसका संक्षिप्त नोट्स ऐसे होगा-

खेल का नाम ( किस महीने में खेला गया )
विजेताउपविजेता
खिलाड़ी का नाम तथा संबंधित देश का नामखिलाड़ी का नाम तथा संबंधित देश का नाम

इस तरह हम अपने सुविधानुसार और भी संक्षिप्त नोट्स बना सकते हैं।

एक ही Newspaper का अध्ययन करें:

Current Affairs की तैयारी करने के लिए कई Newspapers के अध्ययन की जरूरत नहीं होती है।

किसी भी एक अच्छे प्रकाशन के Newspaper का चयन करें और उसका लगातार अध्ययन करते रहें।

यदि कई Newspapers का अध्ययन करते हैं तो Current Affairs की तैयारी में ही आपका बहुत अधिक समय चला जाएगा और बाकी subject की तैयारी नहीं हो पाएगी।

आपको किस Newspaper का अध्ययन करना चाहिए, यह आपके परीक्षा की तैयारी पर निर्भर करता है।

यदि आप इस बात पर निश्चित नहीं हो पा रहे हैं तो एक सप्ताह तक अलग-अलग Newspapers का अध्ययन करके इस बात का पता लगा सकते हैं।

जिस Newspaper के अध्ययन से आपको सबसे अधिक लाभ हो रहा है उसी का नियमित अध्ययन प्रारंभ कर दें।

Newspaper के अध्ययन में बहुत अधिक समय ना दें:

परीक्षा की तैयारी करते समय यह बहुत ही अधिक ध्यान रखने वाली बात है।

कई छात्र ऐसे होते हैं जो Current Affairs की तैयारी के लिए Newspaper के अध्ययन में बहुत अधिक समय देते हैं।

इससे उनके दूसरे विषय की तैयारी के लिए कम समय मिलता है और परीक्षा में उनके अंक कम रह जाते हैं।

इसलिए यदि आप Current Affairs की तैयारी के लिए Newspaper का अध्ययन करते हैं तो इसमें उतना ही समय दें जितने में सभी महत्वपूर्ण बिन्दु cover हो जाते हैं।    

निष्कर्ष:

किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए Current Affairs का अध्ययन उतना ही महत्वपूर्ण होता है जितना अन्य विषय का।

Current Affairs की तैयारी के लिए Newspaper का अध्ययन बहुत ही जरूरी होता है।

वैसे तो Current Affairs के लिए बाजार में कई सारे प्रकाशन की पुस्तकें आती हैं, लेकिन वो अधिकतर परीक्षा के कुछ दिन पहले ही प्रकाशित होती हैं। उनका अध्ययन केवल revision के लिए ही सही होता है।

इसलिए Current Affairs की तैयारी के लिए Newspaper का अध्ययन बहुत ही महत्वपूर्ण और आवश्यक हो जाता है।

Current Affairs की तैयारी के लिए Newspaper का अध्ययन कैसे करना चाहिए कि अधिक-से-अधिक लाभ हो इसी महत्वपूर्ण बिन्दु पर यह लेख आधारित है।

1 thought on “Current Affairs की तैयारी Newspaper के माध्यम से कैसे करें?”

Leave a Comment