SSC Exams Preparation Tips and Tricks | SSC CGL की तैयारी कैसे करें

जो छात्र पहली बार SSC Exams Preparation के लिए जाते हैं उनके लिए यह बहुत बड़ा प्रश्न होता है कि इन परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें?

कुछ छात्रों को SSC Exams Preparation की कोई भी strategy पता नहीं रहती है। इसलिए उन्हें सफल होने में अधिक समय लग जाता है।

हमनें इस लेख में SSC Exams Preparation की क्या strategy होनी चाहिए, इसके बारे में विस्तार से वर्णन किया है।

चूंकि SSC की सभी परीक्षाओं में सबसे अधिक महत्वपूर्ण Combined Graduate Level (CGL) की परीक्षाएं होती हैं।

इस परीक्षा के लिए वो सभी छात्र Eligible होते हैं जिन्होंने Graduation कर लिया है। इसलिए CGL की परीक्षाओं में शामिल होने वाले छात्रों की संख्या अधिक होती है।

इसलिए इस लेख में हमनें CGL की परीक्षाओं की तैयारी पर अधिक Focus किया है। वैसे CHSL की परीक्षाओं की तैयारी के लिए भी यह लेख समान रूप से उपयोगी है।

तो आईए जानते हैं कि SSC की परीक्षाओं की तैयारी करने की क्या strategy होनी चाहिए।

SSC Exams Preparation: कैसे करें तैयारी-

जैसा कि आप जानते हैं कि किसी भी परीक्षा की तैयारी करने के लिए सभी छात्र एक ही strategy को नहीं अपनाते हैं।

लेकिन फिर भी कुछ ऐसी strategy होती हैं जिन्हें अधिकतर छात्र अपनाते हैं।

इस लेख में भी हमनें अनुभव के आधार पर ही SSC Exams Preparation के लिए strategy बताई है।

SSC Exams Preparation Strategy-

SSC Exams Preparation

Previous Papers का अवलोकन: 

किसी भी सरकारी नौकरी की तैयारी करने के लिए Previous Papers का अवलोकन करना बहुत जरूरी होता है।

इसी तरह SSC Exams Preparation के लिए भी सबसे पहले Previous Papers का अवलोकन करना चाहिए।

बाजार में कई पब्लिकेशन के Previous Papers की किताबें उपलब्ध हैं I

आपको उसी पब्लिकेशन की किताब लेनी चाहिए जिसमें कम-से-कम दस साल के Previous Papers दिए हों I

यह भी देखें कि प्रश्नों के उत्तर देने के साथ-साथ उनकी व्याख्या भी दी गयी हो I

आप उत्तर की व्याख्या देखकर आसानी से समझ सकते हैं कि अमुक पब्लिकेशन की किताब अच्छी है या नहीं I

फिर भी हम यहाँ आपकी सहूलियत  के लिए पब्लिकेशन का नाम बताएँगे

आपको Previous papers का अवलोकन करने के लिए कम-से-कम पिछले पांच साल के पेपर को देखना है और बिना उनके उत्तर और व्याख्या देखे ही प्रश्नों के स्तर को देखना है I

अब आपको ऊपरी तौर पर यह पता चल जायेगा कि आपको किस विषय में कितनी मेहनत करनी है I यह भी पता चल जायेगा कि किस टॉपिक्स से कितने प्रश्न पूछे जाते हैं।

अच्छे Publication की और कम से कम Books खरीदें:

Books खरीदते समय कई छात्र यह गलती कर देते हैं।

उन्हें यह समझ नहीं आता है कि किस Publication की और एक subject की तैयारी करने के लिए कितनी Books खरीदनी चाहिए।

यदि हम Publication की बात करें तो हमनें यहाँ अच्छे Publication की Books की लिस्ट दी है।

ये Books इस समय हर जगह आसानी से उपलब्ध हैं और लगभग सभी छात्र इन Books का अध्ययन करते हैं।

अब बात करते हैं कि एक subject की तैयारी के लिए कितनी Books का अध्ययन जरूरी है।

तो हमारे अनुभव के हिसाब से एक subject के लिए कोशिश करें कि एक ही book लें। उसी Book को जितनी बार revision कर सकते हैं उतनी बार करें।

कभी- कभी एक ही subject के लिए एक से अधिक books का अध्ययन जरूरी होता है। फिर भी दो से ज्यादा ना हो तो ही अच्छा है। नहीं तो केवल उनका अध्ययन करते रह जाएंगे और revision करने का समय नहीं मिलेगा।

सभी Subjects के अध्ययन के लिए समय निर्धारित करें:

अच्छी तैयारी करने के लिए प्रत्येक subject का अध्ययन जरूरी है।

अक्सर देखा जाता है कि कई छात्र एक या दो subjects को पढ़ने में पूरा समय दे देते हैं और इससे उनके बाकी subjects की तैयारी नहीं हो पाती है।

इसलिए सभी subjects की तैयारी के लिए समय निर्धारित करें।

यह जरूरी नहीं है कि सभी subjects को एक बराबर समय दें। यह आपके subject के ऊपर कितनी पकड़ है, यह इस बात पर निर्भर करता है।

जिन subjects में आपकी तैयारी अच्छी नहीं है उसे अधिक समय दें और जो आपके लिए आसान है उनपर कम समय दें।

लेकिन बिना समय निर्धारित किए पढ़ाई करने से किसी भी परीक्षा में सफल होना बहुत ही मुश्किल होता है।

इसलिए प्रत्येक subjects का जरूरत के अनुसार ही अध्ययन करें।

Practice Set हल करते रहें:

किसी भी परीक्षा की अच्छी तैयारी करने के लिए ना केवल अध्ययन करना जरूरी है बल्कि समय-समय पर अपनी तैयारी को जाँचना भी जरूरी है।

इसके लिए Practice Set हल करना बहुत जरूरी है।

बाजार में Practice Set दो तरह के उपलब्ध होते हैं। एक मॉडल प्रश्न-पत्र के रूप में होता है और दूसरा chapter-wise होता है।

हमारे अनुभव के हिसाब से तैयारी करते समय chapter-wise practice set को पहले हल करें।

एक-एक chapter तैयार करते रहें और उनका practice set हल करते रहें।

जब सभी chapter की तैयारी हो जाए तो मॉडल प्रश्न-पत्र वाले practice set को हल करें।

नोट्स जरूर बनाएं:

बहुत से ऐसे छात्र होते हैं जो नोट्स बनाने पर अधिक ध्यान नहीं देते हैं। लेकिन ये उनका अपना तरीका है।

हम यह सुझाव देना चाहते हैं कि सभी subjects का नोट्स जरूर बनाएं।

ये नोट्स revision के समय बहुत मदद करते हैं। परीक्षा के समय कम समय में ही इनका revision किया जा सकता है।

SSC CGL / CHSL Tier-I पेपर के सभी भागों की तैयारी करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स:

General Intelligence and Reasoning Preparation Tips-

वैसे तो SSC CGL / CHSL परीक्षा में इस भाग से पूछे जाने वाले प्रश्न उतने कठिन नहीं होते हैं, फिर भी आपको इसकी तैयारी में कोई कमी नहीं रखनी चाहिए I

कोशिश करें कि प्रश्न हल करते समय कॉपी और पेन का प्रयोग कम-से-कम करें। इससे प्रश्न हल करने की speed बढ़ जाती है और कम समय में अधिक-से-अधिक प्रश्न हल कर सकते हैं।

कुछ chapter ऐसे होते हैं जिनसे संबंधित प्रश्नों को केवल छोटे से trick से आसानी से हल किया जा सकता है।

इन tricks का अलग से नोट बना लें जिसमें trick के साथ एक उदाहरण भी शामिल कर लें। इससे परीक्षा के समय revision करने में आसानी रहेगी।

Quantitative Aptitude (गणित) Preparation Tips-

जैसा की आप सभी लोग Previous papers देखने के बाद जान चुके होंगे कि यह भाग SSC CGL  की परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए कितना महत्वपूर्ण है I

इसलिए इस भाग की तैयारी करने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी I

SSC CHSL की तैयारी करने वाले छात्रों को केवल Tier-I की परीक्षा के लिए ही इस भाग की तैयारी करनी है।

पहले हम उन अभ्यर्थियों की बात करते हैं जिनका बेसिक पूरी तरह से तैयार नहीं है।

ऐसे छात्रों को इस भाग की तैयारी के लिए थोड़ा अधिक समय देना पड़ेगा और उन्हें सबसे पहले NCERT की Class 9th और 10th की किताब पढ़नी चाहिए I

उसके बाद SSC Exams Preparation के लिए जो Books बाजार में उपलब्ध हैं उनका अध्ययन करना चाहिए I

जिन छात्रों की पकड़ गणित विषय में अच्छी है उन्हें CGL / CHSL के लिए उपलब्ध books का ही अध्ययन करना चाहिए।

गणित के भी कई ऐसे chapters हैं जिनके प्रश्नों को tricks की सहायता सेआसानी से हल किया जा सकता है।

Reasoning की तरह गणित के भी tricks का एक अलग से नोट्स बना लें।

English language and Comprehension preparation tips:

हिंदी माध्यम के छात्रों के लिए SSC Exams Preparation में सबसे बड़ी चुनौती English में अच्छा स्कोर करना है I

ऐसे छात्र इसी बात से परेशान रहते हैं कि उन्हें English की तैयारी कहाँ से शुरू करनी चाहिए I

तो सबसे पहले हम English में पूछे जाने वाले प्रश्नों को अलग-अलग भागों में बाँट देते हैं। जैसे- Vocabulary, English Grammar, English comprehension

Vocabulary की तैयारी करने के लिए आपको प्रतिदिन कुछ शब्दों को याद करने के लिए टारगेट रखना पड़ेगा।

इसके लिए रोज 10 से 15 शब्दों को कुछ देर के लिए आराम से बैठकर याद कर लें। फिर उन्हें एक पेज पर लिख लें और बार-बार उन शब्दों को देखते रहें।

हिन्दी माध्यम के छात्रों को हिन्दी में ही उन शब्दों की meaning याद करना चाहिए।

English Grammar की तैयारी करने के लिए आपके लिए Grammar की book पढ़ना ही एकमात्र रास्ता है।

English Comprehension की तैयारी के लिए कई तरीके हैं।

यदि आप Newspaper पढ़ने में interested हैं तो Newspaper का एक भाग प्रतिदिन जरूर पढ़ें। पूरे Newspaper को पढ़ने की जरुरत नहीं है।

यदि आप Newspaper नहीं पढ़ना चाहते हैं तो कोई कहानी की किताब या नॉवेल जरूर पढ़ें।

इससे आपके पढ़ने की स्पीड तो बढ़ेगी ही साथ में vocabulary की भी तैयारी होती रहेगी।

Newspaper या नॉवेल पढ़ते समय कठिन शब्दों को एक पेज पर नोट कर लें तथा डिक्शनरी से इनका अर्थ लिख लें I

आजकल मोबाइल फ़ोन के लिए डिक्शनरी के एप्प उपलब्ध हैं, इसलिए डिक्शनरी खरीदने की ज्यादा जरुरत नहीं है I आप अपने सहुलियत के हिसाब से इसका निर्णय ले सकते हैं I  

General Awareness and Current Affairs Preparation Tips:

अधिकतर छात्र इस भाग की तैयारी करने को लेकर सबसे अधिक अनदेखी करते हैं जबकि थोड़ी सी मेहनत से इसमें 15 से 20 प्रश्न आसानी से हल किये जा सकते हैं I

जिन छात्रों की इंग्लिश या गणित कमजोर है उन्हें तो इसकी तैयारी और अच्छे से करनी चाहिए।

SSC CGL या CHSL के सामान्य ज्ञान की तैयारी के लिए आपको बहुत मोटी किताब पढ़ने की जरुरत नहीं है और ना ही नोट्स बनाने की तरफ बहुत अधिक ध्यान देने की जरूरत है।

यह हम अपने अनुभव के आधार पर सुझाव दे रहे हैं। आप अपने सुविधानुसार नोट्स बना सकते हैं।

बाजार में उपलब्ध सामान्य ज्ञान की कोई एक बढ़िया सी book भी इस भाग की तैयारी के लिए पर्याप्त है।

Current affairs के  लिए किसी मासिक पत्रिका का अध्ययन करें I

महत्वपूर्ण घटनाओं का एक Short Note बना लें I इससे परीक्षा के समय Revision  करने में आसानी रहती है I

बाजार में Current affairs की छमाही या वार्षिक पत्रिका भी उपलब्ध रहती हैं जो परीक्षा के समय Revision के लिए काफी है I

लेकिन हम यही सुझाव देंगे कि मासिक पत्रिका का अध्ययन जरुर करें I  

अब बात आती है कि क्या Current affairs की तैयारी करने के लिए Newspaper पढ़ना आवश्यक है?

तो हम यह कभी सुझाव नहीं देंगे कि SSC CGL या CHSL की परीक्षा में पूछे जाने वाले current affairs के प्रश्नों के लिए Newspaper के अध्ययन में अपना समय व्यर्थ करें I

आप सरसरी तौर पर प्रमुख समाचारों को देख सकते हैं पर उसमें ज्यादा समय व्यतित ना करें।  

निष्कर्ष:

यदि आप सही रणनीति के साथ SSC Preparation के लिए Best Books का अध्ययन करते हैं तो आपकी सफलता निश्चित है।

बहुत ज्यादा किताब रखने से अच्छा है कुछ किताबों का Revision बार-बार करें I Previous papers को तो अवश्य ही हल करें I

English के लिए Newspaper पढ़ते समय बिना Grammar का ध्यान रखे तेजी से पढ़नें की आदत डालें I इसके लिए उंगली रखकर और बोल-बोलकर पढ़ें I

यदि आपको Newspaper पढ़ना Boring लग रहा हो तो English में कोई कहानी की किताब या किसी की जीवनी पढ़ें I इससे धीरे-धीरे English पढ़ने की आदत पड़ जाएगी उसके बाद Newspaper पढ़ने में कोई दिक्कत महसूस नहीं होगी I

और अंत में हम यही कहना चाहेंगे  कि कम या ज्यादा जितना भी पढ़ें उसका  Revision करते रहें I

हम आशा करते हैं कि हमारे द्वारा बताये गए उपरोक्त सुझाव आपकी तैयारी में सहायक सिद्ध होंगे I 

SSC की परीक्षाओं की तैयारी करने के लिए इन लेखों को भी जरूर पढ़ें –
1. SSC CGL EXAM PATTERN
2. SSC CGL EXAM SYLLABUS
3. SSC CHSL EXAM PATTERN
4. SSC CHSL EXAM SYLLABUS

यदि लेख अच्छा लगा हो तो जरूर शेयर करें

Leave a Comment