SSC CHSL Exam Pattern 2021 in Hindi: अर्हताएँ और परीक्षा के चरण


SSC द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षाओं में CHSL की परीक्षा भी बहुत महत्वपूर्ण होती है। इसलिए SSC CHSL Exam Pattern को जानना बहुत जरूरी है। इस परीक्षा के माध्यम से 12 वीं उत्तीर्ण विद्यार्थियों को सरकारी नौकरी प्राप्त करने का एक सुनहरा अवसर मिलता है।

इस लेख में हमनें SSC CHSL Exam Pattern के बारे में विस्तृत जानकारी दी है।

साथ ही यहाँ इस परीक्षा के लिए आवश्यक योग्यताओं और इसके अंतर्गत आने वाले पदों के बारे में भी विस्तृत वर्णन किया गया है।

यह भी पढ़ें:
SSC CGL Exam Pattern, 2021
SSC CGL Exam Syllabus,2021

SSC CHSL Exam Pattern- पद, सैलरी और अर्हताएं:

Post और Pay Scale-

Post Pay Level
Lower Division Clerk (LDC)/Junior Secretariat Assistant (JSA) Pay Level-2 (Rs.19,900-63,200)
Postal Assistant (PA)/Sorting Assistant (SA) Pay Level-4 (Rs. 25,500-81,100)
Data Entry Operator (DEO) Pay Level-4 (Rs. 25,500-81,100) और Pay Level -5 (Rs.29,200-92,300)
Data Entry Operator, Grade ‘A’ (C&AG कार्यालय में ) Pay Level-4 (Rs. 25,500-81,100)


Eligibility / अर्हताएँ-

SSC CHSL की परीक्षा में शामिल होने के लिए उम्मीदवार के पास निम्नलिखित अर्हताएं होनी चाहिए।

शैक्षिक योग्यता–

पद शैक्षिक योग्यता
Lower Division Clerk (LDC)/Junior Secretariat Assistant (JSA) उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या विद्यालय से 12 वीं कक्षा या समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए
Postal Assistant (PA)/Sorting Assistant (SA)
Data Entry Operator (DEO)
Data Entry Operator, Grade ‘A’(C&AG कार्यालय में) उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या विद्यालय से Science stream में 12 वीं कक्षा या समकक्ष परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए और गणित एक विषय के रूप में होना चाहिए



उम्र सीमा-

CHSL परीक्षा के अंतर्गत सभी पदों के लिए उम्र सीमा 18 से 27 वर्ष निर्धारित की गई है।

विभिन्न श्रेणियों के लिए ऊपरी उम्र सीमा में छूट (Relaxation) भी दी गयी है जो इस प्रकार है-

Category उम्र सीमा में छूट
OBC 3 साल
SC/ST 5 साल
विकलांग व्यक्ति (PwD-Person with Disabilities) (General) 10 साल
विकलांग व्यक्ति( OBC) 13 साल
विकलांग व्यक्ति( SC/ST) 15 साल



Examinations प्रक्रिया–

SSC CHSL की परीक्षा तीन चरणों (Tier) में सम्पन्न होती है.

चरण प्रकार परीक्षा का माध्यम
Tier-I Objective प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं कंप्यूटर पर online परीक्षा होती है
Tier-II इंग्लिश या हिन्दी माध्यम में Descriptive पेपर होता है यह परीक्षा पेपर पर ऑफलाइन ली जाती है
Tier-III Skill Test या Typing Test कंप्यूटर पर टाइपिंग टेस्ट लिया जाता है I



SSC CHSL Exam Pattern-Tier-I:

यह परीक्षा Objective प्रकार की होती है जिसमें बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते हैं I Paper में चार part होते हैं जिसका विवरण विस्तार से नीचे दिया गया है-

क्र.स. भाग प्रश्नों की संख्या कुल अंक परीक्षा की अवधि
1 General Intelligence and Reasoning 25 50 परीक्षा की कुल अवधि 60 मिनट होती है I दृष्टिबाधित अभ्यर्थियों को 20 मिनट अधिक समय दिया जाता है I
2 General Awareness (सामान्य ज्ञान-GK) 25 50
3 Quantitative Aptitude(गणित) 25 50
4 English language and Comprehension 25 50
कुल 100 200
  • वर्तमान नियमानुसार प्रत्येक भाग में Qualify करना जरुरी नहीं है।
  • गलत उत्तर देने पर Negative marking भी है I प्रत्येक गलत उत्तर देने पर 0.50 अंक काट लिया जायेगा।

SSC CHSL Exam Pattern-Tier-II:

Tier-II परीक्षा में Descriptive पेपर होता है जिसकी परीक्षा पेन और पेपर के माध्यम से ऑफ़लाइन लिया जाता है।

प्रश्नों का उत्तर आप या तो हिन्दी में दे सकते हैं या इंग्लिश में। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि जिस भी भाषा में उत्तर लिख रहे हैं तो उसी भाषा का प्रयोग सभी उत्तर लिखने में करना होता है।

आप कुछ प्रश्नों का उत्तर हिन्दी और कुछ प्रश्नों का उत्तर इंग्लिश में नहीं दे सकते हैं नहीं तो इस पेपर में आपको शून्य अंक दिया जा सकता है।

यह परीक्षा 100 अंकों की होती है और परीक्षा की अवधि 1 घंटे की होती है I दृष्टिबाधित उम्मीदवारों को 1 घंटा और 20 मिनट का समय दिया जाता है I

इस परीक्षा में, उम्मीदवारों की लेखन कौशल का परीक्षण लिया जाता है I जिसमे उम्मीदवारों को Essay, Précis, Application, Letter writing की परीक्षा देनी होती है।

Tier-II परीक्षा को उत्तीर्ण करने के लिए 33 प्रतिशत अंक प्राप्त करना होता है।

साथ ही Tier-II में प्राप्त अंक merit list बनाने के लिए भी किया जाता है।

इसलिए यह ध्यान रखें कि 33 प्रतिशत अंक लाने के साथ ही अधिक-से-अधिक अंक लाने की कोशिश करें।

SSC CHSL Exam Pattern-Tier-III:

Tier-I और Tier-II में प्राप्त अंकों के आधार पर इस परीक्षा के लिए shortlisted उम्मीदवारों को बुलाया जाता है।

इस चरण में उम्मीदवार का कौशल परीक्षण(Skill Test/ Typing Test) पद के अनुसार दो प्रकार से लिया जाता है I

Data Entry Operator के लिए Skill Test-

इस चरण में उम्मीदवार का Typing Test लिया जाता है I यह परीक्षा Qualifying Nature की होती है।

यह परीक्षा कंप्यूटर पर ली जाती है I कंप्यूटर आयोग की तरफ से परीक्षा केंद्र पर उपलब्ध कराये जाते हैं I

यह परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए उम्मीदवार की Typing Speed 8000 Key depressions प्रति घंटे की होनी चाहिए I कंप्यूटर के Keyboard पर किसी एक Key को एक बार दबाने को एक Key depression कहते हैं I

परीक्षा के समय उम्मीदवार को Running format में एक लेख दिया जाता है I परीक्षा की अवधि 15 मिनट की होती है I इस अवधि में उम्मीदवार को 2000 Key depressions की गति से टाइपिंग करनी होती है।

Data Entry Operator, Grade ‘A’(C&AG कार्यालय में) पद के लिए उम्मीदवार की Typing Speed 15000 Key depressions प्रति घंटे की होनी चाहिए।

इन उम्मीदवारों के लिए भी परीक्षा की अवधि 15 मिनट ही होती है। उन्हें 3700-4000 Key depression का इंग्लिश में printed matter दिया जाता है।

जो उम्मीदवार Scribe के लिए eligible होते हैं उन्हें 5 मिनट का अतिरिक्त समय दिया जाता है। इस तरह इनके परीक्षा की अवधि 20 मिनट की होती है।

किसी भी उम्मीदवार को इस परीक्षा से छूट नहीं दी गयी है।

LDC/ JSA and Postal Assistant/ Sorting Assistant पद के लिए Typing Test-

Typing Test का माध्यम हिंदी या अंग्रेजी होता है।

उम्मीदवार को उसी भाषा में Typing Test देना होगा जिसका चुनाव उसने online application के समय किया था।

जो उम्मीदवार अंग्रेजी माध्यम से Typing Test देगा उसकी Typing Speed 35 शब्द प्रति मिनट (w.p.m.) होनी चाहिए यानि प्रति घंटे 10500 key depression की गति होनी चाहिए।

हिंदी माध्यम से Typing Test देने वाले उम्मीदवार की Typing Speed 30 शब्द प्रति मिनट (w.p.m.) होनी चाहिए यानि प्रति घंटे 9000 key depression की गति होनी चाहिए।

परीक्षा की अवधि 10 मिनट की होती है। Typing Test के लिए उम्मीदवारों को एक printed passage दिया जाता है।

जो उम्मीदवार Scribe के लिए eligible होते हैं उन्हें 5 मिनट का अतिरिक्त समय दिया जाता है। इस तरह इनके परीक्षा की अवधि 15 मिनट की होती है।

उन VH उम्मीदवारों को passage पढ़ने के लिए व्यक्ति उपलब्ध कराए जाते हैं जिन्होंने online application के समय scribe का विकल्प चुना होता है।

निष्कर्ष-

उपरोक्त लेख के माध्यम से SSC CHSL Exam Pattern के बारे में यह पता चला कि SSC CHSL की परीक्षा तीन चरणों (Tier) में सम्पन्न होती है।

Tier-I में पेपर के चार भाग होते हैं और सभी प्रश्न Objective Type के होते हैं।

Tier-II की परीक्षा descriptive प्रकार की होती है और इसमें 33 प्रतिशत qualifying marks लाना जरूरी होता है।

Tier-I और Tier-II में प्राप्त कुल अंकों के आधार पर Tier-III परीक्षा यानि Skill Test/Typing Test के लिए उमीदवारों को बुलाया जाता है।

तीनों चरणों की परीक्षा सम्पन्न होने के बाद इनमें प्राप्त अंकों और Skill Test/Typing Test को qualify करने के आधार पर Final Result प्रकाशित होता है।

Final Result में आने वाले उम्मीदवारों को प्राप्त अंकों के आधार पर उन्हें state allot कर दिया जाता है।

यदि जानकारी अच्छी लगी हो कृपया शेयर करना ना भूलें।


Leave a Comment