Short Term Courses: 12वीं के बाद ये हैं जॉब ओरिएंटेड डिप्लोमा कोर्सेस

12वीं के बाद Short Term Courses: 12वीं पास करने के बाद स्टूडेंट्स के सामने दो विकल्प होते हैं। चाहें वो हायर एजुकेशन के लिए कॉलेज में एडमिशन लें या ऐसे Short Term Courses कर लें जिससे कि उन्हें कोई नौकरी मिल जाए।

क्योंकि कभी-कभी कुछ स्टूडेंट्स अपनी आर्थिक परिस्थितियों को देखते हुए कुछ ऐसे कोर्स करना चाहते हैं जो कम समय में हो जाएं यानि Short Term Courses हों और साथ ही जॉब ओरिएंटेड भी हों।

ऐसे स्टूडेंट्स इन कोर्सेस को करने के बाद जल्द से जल्द कमाई करना चाहते हैं। इसी को देखते हुए आजकल बहुत से प्राइवेट संस्थान उपलब्ध हैं जो इस तरह के Short Term Courses कराते हैं।

12वीं के बाद short Term Courses
12वीं के बाद short Term Courses
यह भी पढ़ें:

Top 10 Best Freelancing Websites for Finding Jobs in 2022

ये संस्थान कुछ Short Term Courses के लिए ऑनलाइन क्लासेस भी दे रहे हैं जिससे कि कोई छात्र अपने घर से ही इनकी तैयारी कर सकता है।

इन कोर्सेस को करने के बाद स्टूडेंट्स को अच्छी सैलरी पर नौकरी मिल जाने की संभावना रहती है।

ये Short Term Courses ना केवल साइंस स्ट्रीम के छात्रों के लिए है बल्कि इन्हें अन्य स्ट्रीम जैसे आर्ट्स और कॉमर्स के स्टूडेंट्स भी कर सकते हैं।

Best Short Term Courses List

इस लेख में हमनें इसी तरह के Short Term Courses के बारे में बताया है जो कम समय में हो जाएं और जॉब ओरिएंटेड भी हों।

तो आईए इन Short Term Courses के बारे में विस्तार से जानते हैं।

3डी एनिमेशन में डिप्‍लोमा

यह समय 3डी एनिमेशन का है। आपने भी कई एनिमेशन वाली फिल्में देखी होंगी। अब आप इससे अंदाजा लगा सकते हैं कि 3डी एनिमेशन का कितना स्कोप है।

एनीमेशन बनाते समय पहले स्टोरी का खाका तैयार किया जाता है, फिर उसका एनिमेशन बनाया जाता है और अंत उस एनिमेशन की रिकॉर्डिंग की जाती यही और संपादन किया जाता है।

3डी एनिमेशन में डिप्लोमा कोर्स के लिए 50 प्रतिशत अंकों के साथ 12वीं पास होना जरूरी है।

इसके लिए किसी विशेष स्ट्रीम में पास होना जरूरी नहीं है। यानि 3डी एनिमेशन में डिप्लोमा कोर्स के लिए आर्ट्स, साइंस और कॉमर्स से 12वीं पास किये हुए विद्यार्थी एडमिशन ले सकते हैं।

3डी एनिमेशन में डिप्लोमा कोर्स के लिए प्रमुख संस्थान- इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (IGNOU), Maya Academy of Advanced Cinematics (MAAC), TGC Animation and Multimedia, National Institute of Design, Ahmedabad

डिजिटल मार्केटिंग में डिप्‍लोमा

इस समय लगभग सभी लोग डिजिटल शब्द से परिचित हैं। क्योंकि यह समय पूरी तरह डिजिटल हो चुका है। ऐसे में इस क्षेत्र में करिअर अपने बूम पर है और इन्हीं में से एक है डिजिटल मार्केटिंग में करिअर।  

डिजिटल मार्केटिंग का प्रयोग जितना वर्तमान में हो रहा है उससे कहीं अधिक भविष्य में होने की संभावना है। इसलिए इस क्षेत्र में करियर की भी उतनी ही अधिक संभावना है।

इस कोर्स में 12वीं पास करने के बाद भी दाखिला लिया जा सकता है। हालांकि ग्रेजुएट स्टूडेंट्स भी इसमें डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग का फील्ड इतना बड़ा है कि इसके अंतर्गत कई और अलग-अलग काम हैं, जैसे- Search Engine Optimization (SEO), कंटेंट राइटिंग, Social Media Marketing, ईमेल मार्केटिंग, एफिलिएट मार्केटिंग, Web Analytics, लीड जनरेशन, ब्रांड मैनेजमेंट आदि।   

इसलिए इस फील्ड में नौकरी मिलने की अपार संभावनाएं हैं।

डिजिटल मार्केटिंग में डिप्लोमा करने के बाद डिजिटल मार्केटिंग एक्जीक्यूटिव, मैनेजर, SEO स्पेशलिस्ट, SEO मैनेजर, सोशल मीडिया मार्केटिंग मैनेजर, कंटेन्ट राइटर, वेब स्पेशलिस्ट आदि के तौर पर नौकरी मिल जाती है।

आप चाहें तो इस कोर्स को करने के बाद खुद का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। 

वेब डिजाइनिंग में डिप्लोमा

नाम से ही स्पष्ट है कि इसमें वेबसाईट डिजाइन करने के लिए कोर्स कराया जाता है। इस कोर्स को पूरा कर लेने के बाद स्टूडेंट्स वेब डिजाइनर के तौर पर नौकरी प्राप्त कर सकते हैं या Freelancing का काम कर सकते हैं।

वेब डिजाइनिंग और डेवलपमेंट का काम आईटी उद्योग का एक महत्वपूर्ण भाग है। इस तरह इसमें करिअर का बहुत ही अच्छा स्कोप है।

इस कोर्स के अंतर्गत वेब डिजाइनिंग से संबंधित महत्वपूर्ण भागों जैसे HTML, वेब पेज डिजाइनिंग, जावा स्क्रिप्ट, सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन आदि में पढ़ाई कराई जाती है।

होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा

जैसे-जैसे पर्यटन उद्योग बढ़ रहा है वैसे-वैसे आतिथ्य सेवा में रुचि रखने वालों की जरूरत पड़ रही है और अब होटलों में भी पेशेवरों की मांग बढ़ रही तो इस फील्ड में भी करिअर बनाया जा सकता है।

इसके लिए होटल मैनेजमेंट का कोर्स करना बहुत ही फायदेमंद है। इस कोर्स को करने के बाद किसी रेस्तरां, होटल या यात्री वाले पानी के जहाजों में और अन्य प्रतिष्ठानों में शेफ, रिसेप्शनिस्ट, रूम सर्विस स्टाफ और मैनजेर की नौकरी मिल सकती है।

यदि 12वीं के बाद शॉर्ट टर्म कोर्स करके जल्दी से नौकरी चाहिए तो होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा बहुत ही अच्छा विकल्प है। इस कोर्स को करने के बाद भारत के साथ-साथ विदेशों में भी नौकरी के कई अवसर उपलब्ध हैं। 

फोटोग्राफी में डिप्लोमा

यदि कोई स्टूडेंट फोटोग्राफी में शौक रखता है तो यह शॉर्ट टर्म कोर्स उसके लिए बहुत ही अच्छा है। इसमें बहुत कम समय में डिग्री हासिल करके काम की शुरुआत की जा सकती है।

आजकल फोटोग्राफी का दायरा बढ़ता जा रहा है इसलिए इस फील्ड में भी बहुत अच्छा स्कोप है।

12वीं के बाद किसी भी स्ट्रीम का स्टूडेंट इस फील्ड में अपना करियर बना सकता है। इस कोर्स की अवधि 6 महीने से लेकर 12 महीने तक की होती है।

जहाँ व्यावसायिक तौर पर फोटोग्राफी का काम किया जाता है वहाँ ट्रैन्ड और पेशेवर फोटोग्राफर की डिमांड है।

इसलिए इस कोर्स को करने के बाद कोई स्टूडेंट मॉडलिंग में फोटोग्राफर, फैशन फोटोग्राफर, वाइल्डलाइफ फोटोग्राफर, न्यूज़ फोटोग्राफर बन सकता है। यदि कोई स्टूडेंट चाहे तो वह फोटोग्राफी के फील्ड में खुद का बिजनेस भी शुरू कर सकता है।

मल्टीमीडिया में डिप्लोमा

मल्टीमीडिया शब्द से तो सभी लोग परिचित हैं और यह समय भी मल्टीमीडिया का ही है। तो आप समझ सकते हैं कि इस फील्ड में करिअर का कितना स्कोप है।

मल्टीमीडिया में डिप्लोमा भी एक शॉर्ट टर्म कोर्स है और इसे 6 महीने से लेकर एक साल के अंदर किया जा सकता है। लेकिन यदि कोई स्टूडेंट चाहे तो इसमें 2 साल का एडवांस डिप्लोमा कोर्स भी कर सकता है।

इस कोर्स को करने के बाद स्टूडेंट्स को किसी एडवरटाइजिंग कंपनी, ऐकडेमिक इंस्टीटूशन्स, एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री, वेब इंडस्ट्री, डिजाइनिंग इंडस्ट्री, प्रिंट न्यूज़ मीडिया, पब्लिशिंग इंडस्ट्री, कार्टून प्रोडक्शन जैसे जगहों पर काम करने का मौका मिल जाता है।

इन जगहों पर मल्टीमीडिया में डिप्लोमा करने के बाद इन जगहों पर स्टूडेंट्स को एनिमेटर, ग्राफिक डिजाइनर, मल्टीमीडिया डिजाइनर, वेब डिजाइनर, लोगो डिजाइनर, मल्टीमीडिया प्रोग्रामर, ब्रांड मैनेजर, प्रमोशन मैनेजर, Illustrator आदि पदों के लिए नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। 

निष्कर्ष

किसी कारणवश यदि आपको 12वीं के बाद ऐकडेमिक शिक्षा को आगे बढ़ाने में समस्या हो रही है तो Short Term Courses करके जल्दी से कोई नौकरी कर लेना ही बेहतर है। 

लेकिन यदि आप चाहते हैं कि Short Term Courses करने के बाद खुद का कोई व्यवसाय शुरू करें तो इनको पूरा करने के बाद ऐसा कर सकते हैं। 

हमनें इस लेख में 12वीं के करने वाले कुछ महत्वपूर्ण Short Term Courses के बारे में बताया है। 

Leave a Comment

Republic Day 2022 Speech हिन्दी में कैसे लिखें Happy 73rd Republic Day 2022 SSC CGL Tier 3 Descriptive Paper Tips and Strategy Holiday Homes Online Booking कैसे करें