CBIC Tax Assistant Departmental Exam : Confirmation और Promotion के लिए विभागीय परीक्षाएं

CBIC यानी Central Board of Indirect Taxes and Customs में किसी भी Tax Assistant को नौकरी में स्थायीकारण और प्रमोशन के लिए Tax Assistant Departmental Exam पास करने की जरूरत पड़ती है।

इन Departmental Exams को पास किए बिना किसी भी Tax Assistant की नौकरी ना तो स्थायी मानी जाती है और ना ही अगले उच्च पद पर उनका प्रमोशन हो सकता है।

जैसा कि आपको ज्ञात होगा कि एक Tax Assistant का अगला प्रमोशन Executive Assistant के पद पर होता है।

इसलिए किसी भी नए भर्ती हुए Tax Assistant को नौकरी में स्थायीकरण (confirmation) और प्रमोशन पाने के लिए यह सलाह दी जाती है कि नियुक्ति के बाद एक निर्धारित समय के भीतर इन परीक्षाओं को पास कर लें।

इस लेख में हमने इन दोनों प्रकार की परीक्षाओं के बारे में विस्तार से बताया है और साथ ही हाल में हुए इन परीक्षाओं के पेपर भी pdf format में दिए हैं।

यह भी पढ़ें:
1. Pay Fixation क्या होता है और इसे करना क्यों जरूरी होता है ?
2. Central Government Employee को मिलने वाले भत्ते (Allowances)

तो आईए विस्तार से जानते हैं Tax Assistant Departmental Exam के बारे में।

CBIC Tax Assistant Departmental Exam के प्रकार:

जैसा कि हमने पहले ही बताया है कि नए भर्ती हुए Tax Assistant को दो तरह के Departmental Exams देने पड़ते हैं।

  1. स्थायीकरण परीक्षा यानी Confirmation के लिए Tax Assistant Departmental Exam और
  2. प्रमोशन के लिए Tax Assistant Departmental Exam

आईए इन दोनों विभागीय परीक्षाओं के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त करते हैं।

स्थायीकरण यानी Confirmation के लिए Tax Assistant Departmental Exam:

जैसा कि नाम से ही स्पष्ट हो रहा है कि यह परीक्षा Tax Assistant के नौकरी में स्थायीकरण यानी confirmation के लिए आयोजित की जाती है।

SSC CGL की परीक्षा के माध्यम से सीधी भर्ती हुए किसी भी नए Tax Assistant को नौकरी में स्थायीकरण के लिए यह परीक्षा पास करनी पड़ती है।

बहुत से Tax Assistant के मन में अब यह प्रश्न उठ रहा होगा कि क्या SSC CGL की परीक्षा पास करना ही पर्याप्त नहीं है?

तो यह सच है कि केवल SSC CGL की परीक्षा पास करने मात्र से ही किसी अभ्यर्थी की Department में नौकरी स्थाई नहीं मानी जाती है। इसलिए नौकरी में स्थायी होने के लिए यह Departmental परीक्षा पास करना जरूरी है।

Confirmation के लिए Tax Assistant डिपार्ट्मेन्टल Exam कब आयोजित किया जाता है?

इस परीक्षा का notification अक्सर जनवरी माह में संबंधित जोन के official website पर प्रकाशित कर दिया जाता है।

इसके बाद नए नियुक्त हुए Tax Assistants को उस notification के साथ संलग्न एक proforma को भर कर और अपने वरिष्ठ अधिकारी से सत्यापित करवाने के बाद संबंधित ज़ोन के मुख्यालय में भेजना पड़ता है।

साथ ही उन Tax Assistants को भी यह application भरना पड़ता है जो पहले भी इस परीक्षा में सम्मिलित हुए थे लेकिन परीक्षा उत्तीर्ण नहीं कर सके।

संबंधित ज़ोन के मुख्यालय द्वारा सभी आवेदन प्राप्त करने के बाद सामान्यतया मार्च के महीने में इस परीक्षा का आयोजन किया जाता है।

उन Tax Assistants का परीक्षा केंद्र संबंधित ज़ोन के मुख्यालय में ही आयोजित किया जाता है जिनकी पोस्टिंग मुख्यालय स्थित शहर में ही है। शेष Tax Assistants की परीक्षा संबंधित commissionerate में ही सम्पन्न होती है।

Tax Assistant Departmental Exam के लिए पेपर की संख्या और Syllabus:

Tax Assistant Departmental Exam के कुछ पेपर का Syllabus कार्यालय में करने वाले काम पर आधारित होता है और कुछ पेपर का Syllabus सामान्य ज्ञान तथा कंप्युटर से संबंधित प्रश्नों पर आधारित होता है।

परीक्षा में होने वाले प्रश्न पत्रों का विवरण निम्न प्रकार से है-

Tax Assistant Departmental Exam
Tax Assistant Departmental Exam के लिए पेपर की संख्या और Syllabus

Note: ऐसे उम्मीदवार जिन्होंने SSLC या दशवीं की बोर्ड परीक्षा में एक विषय के रूप में ‘हिंदी’ उत्तीर्ण की है उन्हें हिन्दी के पेपर में उपस्थित होने से छूट प्राप्त है।

Tax Assistant Departmental Examपरीक्षा का Syllabus निम्न प्रकार से है-

PAPER – I

(CUSTOMS LAW) (निर्धारित समय 3 घंटे)-

1. The Customs Act, 1962 (52 of 1962)
2. The Customs Manual (Latest Edition)
3. The Customs Tariff Act, 1975 (51 of 1975)

PAPER II

(A) Procedure and Local Orders of the Customs House (केवल Customs Department में नियुक्त Tax Assistants के लिए) (निर्धारित समय 3 घंटे)

1. Office Manuals relating to-Import
2. Export
3. Bond
4. Drawback
5. Cash and accounts
6. Internal Audit
7. Manifest Clearance
8. Correspondence and Records
9. Refund
10. Local supplement to the Indian Customs Manual
11. Rules and orders in force in the Custom House which are included in the
12. Standing and the Departmental Orders and all instructions relating to the particular Custom House which are contained in the Manual of the Custom House.

(B) Central Excise, Service Tax, Valuation etc. (केवल GST Department में नियुक्त Tax Assistants के लिए) (निर्धारित समय 3 घंटे)

1. The Central Excise Act, 1944 (1 of 1944)
2. CENVAT Credit Rules, 2005
3. The Central Excise Tariff Act, 1985 (5 of 1986)
4. The Central Excise Rules, 2002
5. Provisions relating to Service Tax in the Finance Act, 1994.
6. The Central Excise Valuation (Determination of price Excisable goods)
Rules, 2000.

PAPER III-

Computer Application and Proficiency in use of Internet
1. Overview of Hardware
2. Windows
a. Logging into Windows
b. Shutting down and use of CTRL – ALT – DEL.
c. Windows Explorer
d. Use of FIND OR SEARCH
e. Using floppy disc and CD ROM

3. MS Office
A. MS Word
i. Creating a new document
ii. Basic formatting including Bullets and numbering and Header and Footer.
iii. Find and Replace.
iv. Auto correct and spell check
v. Saving documents
vi. Sending documents through floppy.
vii. Printing the documents including print preview and layout.
viii. Table handling.
ix. Mail Merge

B. MS Excel
i. Introduction to Excel
ii. Creating a simple worksheet
iii. Basic formatting
iv. Simple functions and calculations
v. Saving / printing of documents
vi. Print Preview

C. MS Power Point
i. Introduction to power point
ii. The power point screen
iii. The auto Content Wizard.
iv. The slide Views-an overview
v. Using the slide views
vi. Customizing slide structure
vii. Adding text to slides
viii. Adding text to slides
ix. Moving through presentations
x. Inserting the deleting slides
xi. Inserting pictures
xii. Printing
xiii. Running a presentation
xiv. Introduction to internet
xv. Surfing and searching
xvi. E-mail

PAPER IV-

Economic and Commercial Geography and General Knowledge (निर्धारित समय 3 घंटे)

a. Simple questions on commercial geography
b. A short essay or a draft on a set subject
c. Making a précis or a passage not exceeding 400 words.

PAPER V-

Administration (निर्धारित समय 3 घंटे)
1. Civil Service Regulations, so far as they relate to Pensions only.
2. Fundamental Rules and Supplementary Rules (Posts and Telegraphs Compilation)
a. Section III (Fundamental Rules) – excluding Special Leave Rules
b. Section IV (Supplementary Rules) – Paras I to V
c. Appendices – 3, 3-A, 7-A, 8, 13, 15, 18 and 18-A.
3. The Central Civil Services (Classification, Control and Appeal) Rules, 1965.
4. The General Provident Fund (Central Services) Rules, 1972.
5. The General Financial Rules (Volume I, Chapters 1 to 7, 10 and 13, Volume II- Appendices 7, 8 and 17)
6. The Central Treasury Rules (Volume I, part I, Section II, Part V, Chapters II to V, IX and Part X. Volume II-Appendices 4).
7. The Central Civil Services (Conduct) Rules. 1964.

PAPER VI-

Hindi (निर्धारित समय 3 घंटे)
i. Translation of a passage from English to Hindi and from Hindi to English.
ii. Correction of sentences and giving Hindi words equivalents for English words.
iii. Answer from Hindi passage,
iv. Conversation
v. Reading of petitions and documents written in manuscripts in Hindi.
vi. Classification of Official Language Act, 1963 (19 of 1963),
vii. Knowledge of Hindi rules and regulations.

Tax Assistant Departmental Exam के अवसर:

Confirmation के लिए Tax Assistant Departmental Exam साल में एक बार ही आयोजित किया जाता है। इसलिए किसी भी Tax Assistant को समय से अवसरों का लाभ उठाना चाहिए।

Tax Assistants को उनकी नियुक्ति की तारीख से दो साल की निर्दिष्ट अवधि के भीतर Confirmation के लिए Tax Assistant Departmental Exam को उत्तीर्ण करना होता है।

यदि इन दो सालों के भीतर कोई Tax Assistant यह परीक्षा उत्तीर्ण नहीं करता है तो उसको मिलने वाले Annual Increment को रोक दिया जाता है।

इन दो स्वीकार्य अवसरों के अतिरिक्त उस Tax Assistant के कमिशनर दो और अवसर प्रदान कर सकते हैं। इसके लिए Tax Assistant को किसी तरह के आवेदन की जरूरत नहीं पड़ती है।

इसके बाद भी यदि कोई Tax Assistant यह परीक्षा उत्तीर्ण नहीं कर पाता है तो उस Commissionerate के Chief Commissioner एक और अतिरिक्त अवसर प्रदान कर सकते हैं।

इन सभी अवसरों के समाप्त होने के बाद दो और अतिरिक्त अवसर केवल बोर्ड द्वारा ही प्रदान किया जा सकता है। इसके लिए Tax Assistant को एक आवेदन बोर्ड के पास भेजना होता है, जिसे उस Tax Assistant के संबंधित कार्यालय द्वारा अग्रेषित किया जाएगा।

इसके बावजूद भी यदि कोई Tax Assistant यह परीक्षा उत्तीर्ण नहीं कर पाता है तो उसे नौकरी से terminate कर दिया जाता है।

लेकिन यह ध्यान रखने वाली बात है कि यदि कोई Tax Assistant इन अतिरिक्त अवसरों के दौरान यह परीक्षा उत्तीर्ण कर लेता है तो उसके रुके हुए Annual Increment को Regularize कर दिए जाता है।

साथ ही जिस साल से उसका Annual Increment रुका हुआ था तब से लेकर Regularize करने के साल तक का Arrears भी प्रदान किया जाता है।

प्रमोशन के लिए Tax Assistant Departmental Exam:

जैसा कि हमारे एक अन्य लेख में बताया गया है कि Tax Assistant का पहला प्रमोशन Executive Assistant के पद पर होता है।

लेकिन इस प्रमोशन को पाने के लिए एक Tax Assistant Departmental Exam होता है। ध्यान रखने वाली बात यह है कि कोई भी Tax Assistants जिसने Confirmation Exam उत्तीर्ण नहीं किया है वह इस Departmental Exam के लिए योग्य नहीं होता है।

प्रमोशन के लिए होने वाला यह Tax Assistant Departmental Exam साल में दो बार लिया जाता है। जिसका आयोजन अक्सर मार्च और सितंबर महीने में किया जाता है।

इसमें निम्नलिखित पेपरों की परीक्षा ली जाती है-

इस Tax Assistant Departmental Exam का Syllabus निम्न प्रकार है-

Paper I – Central Excise, GST and Customs Procedure

  1. GST Act -COST Act 2017 -IGST Act, 2017, UTGST Act, 2017 और GST (Compensation to States) Act, 2017
  2. CGST Rules, 2017 (संशोधित)
  3. GST Rates
  4. Central Excise Act, 1944.
  5. Central Excise Rules,(नवीनतम)
  6. Central Excise Tariff Act, 1985.
  7. CENVAT Credit Rules,(नवीनतम
  8. Customs Act 1962 and Rules & procedures.
  9. CESTAT (Procedure) Rules, 1982 (संशोधित)
  10. Central Excise (Appeals) Rules, 2001.

Paper II – Computer Application (Theory & Practical)

  1. Overview of Hardware and Software
    a. Basics on Input devices.
    b. Basics on output devices.
    c. Basics of CPU.
    d. Basics of Software.
  1. Windows including-
    a. Logging onto windows.
    b. Passwords.
    c. Shutting down and using of CTRL-ALT-DEL
    d. Desktop including customization & Screen saver.
    e. Task bar.
    f. Windows explorer.
    g. Use of FIND.
    h. Using floppy disk and CD ROM.
  2. Office 97-MS Word, MS Excel and MS PowerPoint

A. MS Word
i) Creating a new document
ii) Basic formatting including Bullets and numbering, Header & Footer.
iii) Find and Replaces.
iv) Auto Correct and Spell check.
v) Saving documents.,
vi) Sending documents through mail and floppy.
vii) Printing documents including print preview and layout.
viii) Help Menu .
ix) Table insertion.

B. MS Excel
i) Introduction to Excel
ii) Creating a simple worksheet.
iii) Relation between cells, use of Sign.
iv) Basic functioning.
v) Simple functions and calculations.
vi) Saving / Printing of documents.
vii) Print preview.

C. MS Power Point
i) Introduction to PowerPoint
ii) Reading simple presentation
iii) Using the slide views
iv) Inserting and deleting slides
v) Taking printout of slides

D. Internet including
i) Use of Web mail including attachment and download of files.
ii) Browsing including searches.

Paper III- Administration

  1. Central Civil Services (Pension) Rules, 1972.
  2. Central Civil Services (Classification, Control & Appeal) Rules 1965
  3. Central Civil Services (Conduct) Rules, 1964
  4. General Provident Fund (Central Services) Rules, 1960.
  5. General Financial Rules, 2005 and Receipts and Payments, Rules 1983.
  6. Central Civil Services (Leave) Rules, 1972.
  7. Leave Travel Concession Rules
  8. FR & SR.
  9. Swamy’s Hand Book

निष्कर्ष:

किसी भी सरकारी विभाग में प्रमोशन के लिए Departmental Exam बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं। यदि इन परीक्षाओं को कोई कर्मचारी निर्धारित समय पर उत्तीर्ण नहीं करता है तो उसकी नौकरी खतरे में आ जाती है।

यदि उस कर्मचारी ने कुछ अतिरिक्त अवसरों का लाभ उठाकर किसी तरह से परीक्षा उत्तीर्ण भी कर ली तो उसके प्रमोशन में बड़ी बाधाएँ आती हैं। और यदि समय पर प्रमोशन नहीं होता है तो आगे चलकर आर्थिक रूप से बहुत नुकसान उठाना पड़ता है ।

CBIC में भी Tax Assistant Departmental Exam बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं। इनमें एक बहुत ही महत्वपूर्ण Exam होता है Tax Assistant का Confirmation Exam।

यदि कोई Tax Assitant यह परीक्षा समय पर उत्तीर्ण नहीं करता है तो उसकी नौकरी जाने की संभावना बढ़ जाती है। इतना ही नहीं उसकी Salary में होने वाला Annual Increment भी रोक दिया जाता है।

उपरोक्त लेख में हमने Tax Assistant के इसी परीक्षा के बारे में विस्तार से जानकारी दी है और साथ ही इस परीक्षा में होने वाले पेपर तथा Syllabus के बारे में भी जानकारी दी है।

यदि नियुक्ति के तुरंत बाद से ही इन परीक्षाओं की तैयारी कोई Tax Assistant शुरू कर देता है तो वह समय से इन परीक्षाओं को उत्तीर्ण कर लेगा और भविष्य में होने वाले प्रमोशन भी समय से प्राप्त कर लेगा।

SSC की तैयारी से संबंधित महत्वपूर्ण लेख:
SSC CHSL Exam Syllabus, 2021
SSC CGL Exam Pattern, 2021
SSC CGL Exam Syllabus,2021
यह लेख आपलोगों को कैसा लगा इसके बारे में कमेन्ट बॉक्स में बताएं और यदि यह लेख अच्छा लगा हो तो शेयर करना ना भूलें।

Leave a Comment